इंडियन आइडल 12 का ग्रैंड फिनाले लाइव: पवनदीप-आशीष ने संगीत निर्देशक के रूप में भूषण कुमार से मुलाकात की

facebook posts


ब्रेडक्रंब ब्रेडक्रंब

समाचार

oi-Sumit Rajguru

|

इंडियन आइडल 12ग्रैंड फिनाले की घोषणा होने के बाद से ही लोगों के बीच जबरदस्त चर्चा हो रही है। मेगा इवेंट के प्रोमो सोशल मीडिया पर पहले से ही ट्रेंड कर रहे थे और प्रशंसक छोटे पर्दे पर संगीत समारोह को देखने के लिए शांत नहीं थे। अनजान के लिए,

इंडियन आइडल 12

छह फाइनलिस्ट हैं – पवनदीप राजन, अरुणिता कांजीलाल, शनमुखप्रिया, निहाल टौरो, मोहम्मद दानिश और सायली कांबले। इंडियन आइडल 12 का ग्रैंड फिनाले आज (15 अगस्त 2021) हो रहा है। मेगा इवेंट का प्रसारण 12 घंटे यानी स्वतंत्रता दिवस 2021 के अवसर पर दोपहर से आधी रात तक किया जाएगा।

इंडियन आइडल 12 ग्रैंड फिनाले: शनमुखप्रिया, पवनदीप राजन, अरुणिता कांजीलाल और 3 अन्य लोग ट्रॉफी के लिए प्रतिस्पर्धा करते हैं

#इंडियन आइडल 12 के फिनाले की शुरुआत राष्ट्रगान से हुई।

जय भानुशाली

शो की कुछ यादगार घटनाओं को याद करके शो की शुरुआत की।

#

अंजलि गायकवाडी

भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजलि। वह ‘वंदे मातरम’ गीत गाती है, और दर्शकों के बीच देशभक्ति की भावना पैदा करती है। उनका अभिनय कई लोगों के रोंगटे खड़े कर देता है।

# फाइनलिस्ट

Arunita
Kanjilal

तथा

सायली कांबले

सैनिकों के लिए लड्डू बनाता है। हिमेश रेशमिया इसे ‘आजादी के लड्डू’ कहते हैं।

# न्यायाधीश

Himesh
Reshammiya

सैनिकों के लिए ‘ऐ वतन तेरे लिए’ गाते हैं।

#इंडियन आइडल 12 के कंटेस्टेंट ने सभी की आंखें नम कर दीं। अरुणिता कांजीलाल और पिछले सीज़न के प्रतियोगी ‘ये मेरे वतन के लोगन’ गाते हैं।

#
Ashish
Kulkarni,
Anushka
Banerjee
and
Sireesha
Bhagavatula
sing
‘Bharat
Humko
Jaan
Se
Pyaara
Hai’.

# आशीष कुलकर्णी ने अपने सबसे अच्छे दोस्त पवनदीप राजन को ‘पवन-आशीष, संगीत निर्देशक जोड़ी’ शीर्षक से नेमप्लेट का अनावरण करके आश्चर्यचकित कर दिया। मनोज मुंतशिर उन्हें टी-सीरीज के मालिक भूषण कुमार से मिलने ले गए।

#
Army
man
Naveen
Nagappa
mentions
fighting
alongside
Shershaah
Vikram
Batra
in
the
Kargil
War
1999.

# आशीष कुलकर्णी, वैष्णव गिरीश और तुषार दास ने ‘रंग दे बसंती’ और ‘हिंदुस्तानी’ गाने गाकर मंच पर आग लगा दी।

# पूर्व प्रतियोगी नचिकेत लेले ने भारत के पिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी। वह खुद को गांधीजी में बदल लेती है और ‘बंदे में था दम… वंदे मातरम’ गाती है। बहु-प्रतिभाशाली गायक ने अपने प्रदर्शन से दर्शकों को प्रभावित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *