एससीओ शिखर सम्मेलन 2022: मोदी पर सबसे बड़ा कवरेज – समरकंद में पुतिन की मुलाकात | विशिष्ट

Fb-post



पीएम मोदी ने व्लादिमीर पुतिन से मुलाकात की: एससीओ शिखर सम्मेलन 2022: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समरकंद में शंघाई सहयोग संगठन शिखर सम्मेलन के मौके पर रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ द्विपक्षीय बैठक की। इस दौरान पीएम मोदी और राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच तमाम मुद्दों पर बातचीत हुई.
इस दौरान रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि उन्हें पता है कि यूक्रेन में संघर्ष को लेकर भारत का क्या रुख है. साथ ही वह यह भी जानता है कि भारत भी इससे चिंतित है। उन्होंने कहा कि यूक्रेन में जो कुछ हो रहा है, उसके बारे में वह पूरी जानकारी देंगे.
पीएम मोदी ने रूस-यूक्रेन का जताया आभार
इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने व्लादिमीर पुतिन और यूक्रेन का आभार जताया. उन्होंने कहा कि जब संकट के समय हजारों भारतीय छात्र यूक्रेन में फंस गए थे, तब रूस और यूक्रेन की मदद से हम अपने छात्रों को वहां से निकाल सके. उन्होंने कहा कि आज का युग युद्ध का नहीं कूटनीति का है।
‘भारत-रूस दशकों से एक-दूसरे के साथ हैं’
पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने पुतिन से कई बार फोन पर बात की है कि लोकतंत्र, कूटनीति और संवाद दुनिया को छूते हैं। आज हमें बात करने का मौका मिला है कि कैसे हम शांति के रास्ते पर आगे बढ़ सकते हैं। उन्होंने कहा कि भारत और रूस कई दशकों से एक-दूसरे के साथ हैं।
आपको बता दें कि पीएम मोदी आज एससीओ समिट की बैठक में शामिल हुए। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोविड-19 और यूक्रेन की स्थिति के कारण वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला बाधित हुई है, जिससे दुनिया के सामने ‘अभूतपूर्व’ खाद्य और ऊर्जा सुरक्षा संकट पैदा हो गया है.
यूक्रेन पर रूस के हमले और ताइवान के खिलाफ चीन के आक्रामक सैन्य रुख के कारण भू-राजनीतिक उथल-पुथल के समय आठ देशों के प्रभावशाली एससीओ समूह का शिखर सम्मेलन हो रहा है। मोदी 24 घंटे के दौरे पर गुरुवार रात यहां पहुंचे थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.